अब गाड़ियों में हॉर्न की जगह बजेंगे तबला बांसुरी ….

नया प्रयोग :-  मोदी सरकार अब आपकी सेहत का ध्यान रखते हुए, कानों को चुभने वाले गाड़ियों के हॉर्न की आवाज को लेकर एक नए नियम (New Horn Policy by Nitin Gadkari) को लागू करने की तैयारी कर रही है।

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी गाड़ियों के हॉर्न की आवाज को और अधिक सुखद बनाने के लिए नए नियमों पर काम कर रहे हैं। गडकरी के मुताबिक, जल्द ही आपको गाड़ियों के हॉर्न की कर्कश आवाज से मुक्ति मिल जाएगी ।

new horn policy digital tohana

गडकरी ने गाड़ियों के हॉर्न की आवाज को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि उनके मंत्रालय के अधिकारी कारों के हॉर्न की आवाज बदलने पर काम कर रहे हैं। उनके मुताबिक, अब आपको हॉर्न की कर्कश आवाज की जगह भारतीय संगीत वाद्य यंत्रों (Indian musical instruments) की मधुर ध्वनि सुनाई देगी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं 11वीं मंजिल पर रहता हूं और रोज सुबह 1 घंटा योगाभ्यास करता हूं । लेकिन हॉर्न की आवाज से सुबह की शांति भंग हो जाती है । इसलिए मेरे दिमाग में यह ख्याल आया कि गाड़ियों के हॉर्न सही तरीके से होने चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमने सोचना शुरू कर दिया है कि कार के हॉर्न की आवाज मधुर होनी चाहिए, यह आवाज भारतीय वाद्य यंत्र होनी चाहिए और हम इस पर काम कर रहे हैं। तबला, ताल, वायलिन, बिगुल, बांसुरी जैसे वाद्ययंत्रों की आवाज हॉर्न से सुनाई देनी चाहिए।

गडकरी ने कहा कि इनमें से कुछ नियम वाहन निर्माताओं पर लागू होंगे। इसलिए, जब वाहन का निर्माण किया जा रहा है, तो उसके पास सही प्रकार का हॉर्न होगा। सरकार यह आदेश दे सकती है कि गाड़ियों के हॉर्न भारतीय वाद्य यंत्रों की तरह बजने चाहिए। नए आदेश के बाद हॉर्न की जगह भारतीय वाद्य यंत्र जैसे तबला, ताल, वायलिन, बिगुल, बांसुरी आदि की धुन सुने जा सकेंगे।

 – डिजिटल टोहाना ग्रुप 

1 thought on “अब गाड़ियों में हॉर्न की जगह बजेंगे तबला बांसुरी ….”

Leave a Comment