हरियाणा क्लर्कों ने माँगा अपना अधिकार, जानिए क्या माँगा

haryana clerk 35400 digital tohana

हरियाणा के लिपिक कर्मचारियों ने सरकार से अपने अधिकार (Haryana Clerk 35400 Basic Pay)की मांग की है, और अपने इस अधिकार को  प्राप्त करने के लिए पुरे हरियाणा के लिपिक कर्मचारियों ने लामबंद होना शुरू कर दिया है,

haryana clerk 35400 basic pay

लिपिक अर्थात क्लर्क कर्मचारियों का कहना है की उन्हें उनके कार्य के अनुसार वेतन नहीं दिया जा रहा, जबकि उनसे कार्यालय में सभी प्रकार के कार्य करवाए जा रहे हैं, जैसे 

  1. RTI
  2. डायरी डिस्पेच
  3. ड्राफ्टिंग
  4. टाइपिंग
  5. फाइलें पूरी करना
  6. कोर्ट केस
  7. सभी प्रकार के टेक्निकल काम 
  8. रिपोर्ट तैयार करना
  9. सरल पर दी जाने वाली सेवाओं का समय पर निपटान 
  10. सभी कर्मचारियों की सैलरी बनाना
  11. CM विंडो पर आने वाली कंप्लेंट की रिपोर्ट 
  12. अधिकारीयों के सभी कार्यों को निपटवाना 

लिपिकों का कहना है की हरियाणा सरकार ने समय समय पर सभी कर्मचारी वर्गों की तनख्वाह में सम्मानजनक वेतन वृद्धि की है किन्तु सरकार की योजनाओं को सिरे चढाने वाले और विभागों में सबसे अधिक कार्य करने वाले क्लर्क वर्ग की सैलरी अभी भी निम्न कोटि की है और वर्षों से बढाई नहीं गई है 

सभी वर्गों की सैलरी बढाई गई है

हरियाणा सरकार ने अतिथि अध्यापकों की सैलरी को दुगने से भी अधिक कर दिया है

haryana clerk 35400 digital tohana

कच्चे कर्मचारियों के वेतन को बढाने का प्रस्ताव भी तैयार हो चूका है, जिसके बाद कच्चे कर्मचारियों की तनख्वाह पक्के क्लर्कों से भी अधिक हो जाएगी |

haryana clerk 35400 digital tohana

हरियाणा सरकार ने MPHW कर्मचारी जिनका कार्य क्लर्क के बराबर ही है, उनकी तनख्वाह भी 35400 बेसिक कर दी गई है |

haryana clerk 35400 digital tohana

 

इस प्रकार हमने अपनी पड़ताल में पाया की सरकार ने दिल खोल कर विभिन्न कर्मचारी वर्गों की तनख्वाह को एक सम्मानजनक स्तर तक बढाया है 

किन्तु लिपिक वर्ग को अभी भी लगभग डी-ग्रुप  के बराबर ही वेतन दिया जा रहा है,

इसी वजह से अब हरियाणा भर के विभिन्न विभागों के  लिपिक अब सरकार से अपना अधिकार लेने के लिए जिला स्तर पर जुड़ना शुरू हुए हैं व अपने हक़ के लिए आवाज उठाई है 

क्लर्क वेलफेयर सोसाइटी का निर्माण

हरियाणा के क्लर्क कर्मचारियों ने मिलकर अपने उद्देश्य की प्राप्ति के लिए एक सोसाइटी का गठन किया है जिसका नाम क्लर्क वेलफेयर एसोसिएशन सोसाइटी रखा गया है,  इसका मुख्य उद्देश्य है – HARYANA CLERK BASIC PAY 35400

haryana clerk 35400 digital tohana
haryana clerk 35400 digital tohana

हरियाणा के क्लर्कों द्वारा की जा रही मीटिंग, सोशल मीडिया कैम्पेन, और आन्दोलन की रुपरेखा को देखते हुए लगता है की हरियाणा के लिपिक बाबु अब अपनी प्रमुख डिमांड “Haryana clerk 35400” बेसिक पे से कम पर मानने वाले नहीं हैं |

कर्मचारियों के रुख से लगता है कि सरकार के सामने अब एक नई चुनौती शुरू होने वाली है,

हम जल्दी ही इस मुद्दे पर आपको सरकार का पक्ष दिखाने का प्रयत्न करेंगे |

हमारे पाठकों का लिपिक बाबुओं की इस मांग के बारे में क्या कहना है इस पर अपना कमेन्ट जरुर करें, ताकि समाज का पक्ष भी सामने आ सके 

 

-डिजिटल टोहाना टीम 

52 thoughts on “हरियाणा क्लर्कों ने माँगा अपना अधिकार, जानिए क्या माँगा”

    • सभी लिपिक भाइयों से सभी ऑफिसों में काम तो टेक्निकल दिया जाता है लेकिन ठप्पा डायरी डिस्पेचर का लगा रखा है हरियाणा सरकार को इस बारे में ध्यान देना चाहिए और हमारे काम की समीक्षा करके हमें हमारा सम्मानजनक बेसिक पे 35400 प्रदान करना चाहिए

      Reply
  1. हरियाणा सरकार को लिपिकों की सैलरी तुरंत प्रभाव से 35400 कर देनी चाहिए

    Reply
  2. क्लर्क के काम को देखते हुए सम्मानजनक वेतनमान बेसिक 35400 कर देनी चाहिए क्योंकि सरकार की किसी भी प्रकार की योजना के लिए क्लर्क का बेहद अहम रोल होता है । क्लर्क के लिए यह मांग उनके हक के लिए है । अत: सरकार को इस बारे भी कदम उठाना चाहिए ।

    Reply
  3. सरकार को तुरंत प्रभाव से लिपिक वर्ग कि सैलरी 35400 कर देनी चाहिए। सरकारी विभागो मे 100 मे से 80 प्रतिशत कार्य लिपिको के द्वारा ही किया जाता है।

    Reply
  4. सरकार द्वारा हमेशा से ही लिपिक वर्ग को निम्न दर्जे का कर्मचारी समझा है। इसके आंदोलन करने पर हमेशा ही अंकुश लगाया जाता रहा है। इसे भय तथा कार्य की जिम्मेवारियों से दबाया जाता रहा है।
    परंतु अब यह नहीं चलेगा।
    सरकार को झुकना ही पड़ेगा।
    लिपिक को उसका हक #35400 दे दो वरना शोषित का प्रतिशोध कैसा होता है यह इतिहास पूरी दुनिया को पता है।

    Reply
  5. हरियाणा सरकार को सभी लिपिक कर्मचारियों के कार्य की समीक्षा करके उनका सम्मानजनक बेसिक पे 35400 प्रदान करना चाहिए

    Reply
  6. Clerk ko bhi uska hak 35400 milna chahiye.
    Clerks deserve 35400 basic pay.
    35400 clerks ki jayaj demand hai.
    Haryana sarkar ko ise turant lagu krna chahiye.
    Clerks ke kam K anurup 35400 basic pay jayaj hai.

    Reply
  7. सरकार को तुरंत प्रभाव से लिपिक वर्ग कि सैलरी 35400 कर देनी चाहिए। सरकारी विभागो मे 100 मे से 80 प्रतिशत कार्य लिपिको के द्वारा ही किया जाता है।

    Reply
  8. लिपिकों की मांग बिलकुल जायज है क्योंकि लिपिकों से काम तो टेक्निकल एक्सपर्ट का लिया जा रहा है लेकिन सैलरी ग्रुप d के बराबर दी जा रही है। भूतकाल में जिन भी पदों की सैलरी लिपिकों के समान थी या उनसे कम थी, उनकी सैलरी आज लिपिकों से दोगुनी हो चुकी है जबकि लिपिक वर्ग की सैलरी आज भी वही है। लिपिक सरकारी तंत्र की रीढ़ की हड्डी होती है, आज वही रीढ़ की हड्डी काम के अत्यधिक बोझ व कम सैलरी की वजह से टूटने के कगार पर है तथा अपने हक को पाने के लिए संघर्ष करने को मजबूर है। यही वक्त है की सरकार को अपने आप लिपिकों की सुध लेनी चाहिए तथा इन्हें एक सम्मानजनक वेतन प्रदान किया जाए ।

    Reply
  9. हरियाणा सरकार को लिपिकों की सैलरी तुरंत प्रभाव से 35400 कर देनी चाहिए

    Reply
  10. Group D और Group C, क्लर्क की बेसिक पे में ना के बराबर अंतर है

    Reply
  11. हरियाणा में लिपिक का वेतनमान उसके काम और जिम्मेदारी को देखते हुए बहुत ही कम है ।हरियाणा लिपिक को सभी प्रकार का टेक्निकल कार्य करना पड़ता है लेकिन उसकी सैलरी ग्रुप डी के बराबर है ।एक समय था जब जेबीटी, पटवारी, जूनियर इंजीनियर की सैलरी लिपिक से कम थी लेकिन 20 वर्षों से लिपिक के वेतनमान में कोई वृद्धि नहीं हुई है। डिमांड बेसिक पे 35400

    Reply
  12. भाईयो 35400 baisc पे govt. ने देनी पड़ेगी ना तो भूखे मरजांगे इस 19900 पे इस लिए सरकार ने हमारी तरफ भी ध्यान देना चाइए ये M.P और M.L.A अपना HRA 100000 रुपए बढ़ा गए और हमे घर से बाहर ANEWHERE में ऑनलाइल ट्रांसफर पॉलिसी की आड़ में दूर 350 KM भेज दिए

    Reply
  13. क्लर्क का वेतन बढाना चाहिए क्योंकि समान योग्यता वाले MPHW और JBT टीचर के पास Workload क्लर्क से कम और वेतन 35400 है तो क्लर्क को भी सरकार को 35400 का वेतनमान देना चाहिए।

    Reply
  14. हरियाणा में लिपिक का वेतनमान उसके काम और जिम्मेदारी को देखते हुए बहुत ही कम है ।हरियाणा लिपिक को सभी प्रकार का टेक्निकल कार्य करना पड़ता है लेकिन उसकी सैलरी ग्रुप डी के बराबर है ।एक समय था जब जेबीटी, पटवारी, जूनियर इंजीनियर की सैलरी लिपिक से कम थी लेकिन 20 वर्षों से लिपिक के वेतनमान में कोई वृद्धि नहीं हुई है। क्लर्क की बेसिक पे 35400 की डिमांड उचित है और सरकार को इसे पूरा करना चाहिए।

    Reply
  15. हरियाणा सरकार को लिपिकों की सैलरी तुरंत प्रभाव से 35400 कर देनी चाहिए

    Reply
  16. हरियाणा सरकार को लिपिकों की सैलरी तुरंत प्रभाव से 35400 कर देनी चाहिए

    Reply
  17. बिल्कुल 35400 बेसिक पे होनी चाहिए एक लिपिक की कार्य अनुसार
    और सरकार को इस बारे ध्यान देना चाहिए

    Reply
  18. क्लर्क को भी सम्मानजनक वेतन चाहिए क्योंकि ये हकदार है 35400/- के।
    #haryanaclerkbasicpay35400

    Reply

Leave a Comment